Mahasamund

महासमुन्‍द - कर्ज और लालच ने बना दिया एक कर्मचारी को अपराधी

कर्ज और लालच ने बना दिया एक कर्मचारी को अपराधी, अपराधी कैसा जिसने रच डाली अपने ही लूट की कहानी, देर रात से तड़के सुबह तक आरोपी करता रहा पुलिस को गुमराह, आखिरकार सांकरा पुलिस और क्राइम ब्रांच ने कुछ ही घण्टों में किया 10 लाख 90 हजार की लूट की कहानी का खुलासा

महासमुन्‍द - 11 नग मोटर सायकल सहित चोरी के आरोपी पकडेे गये ।

दिनाक 06/12/16 को मुखबिर की सुचना पर आरोपी मंगलेश बैष्णव पिता पुरुषोत्तम बैष्णव 20 साल सा0 केंन्दूडार थाना सराईपाली एवम् सनत बरिहा पिता लखेश्‍वर बरिहा 24 साल सा0 केंन्दूडार थाना सराईपाली को चोरी की मोटर सायकल बेचने के फिराक में ग्राहक तलास करते पकड़ा गया। इनके निशानदेही पर आरोपी होरीलाल चौहान पिता मंजिलाल चौहान 27 साल सा0 संतपाली थाना सराईपाली प्रेम चौहान पिता जोधीराम चौहान 24 साल निवासी केन्दूडार थाना सराईपाली को पकड़ा गया जिनसे कुल 11 मोटरसायकल बरामद कर थाना महासमुंद में अग्रिम कार्यवाही हेतु दिया गया क्राइम ब्रांच महासमुंद की कार्यवाही।

महासमुन्‍द - जिला महासमुन्‍द के 3500 छात्रााओं एवं 2300 छात्रो को सेल्फ डिफेन्स का ज्ञान प्रदान किया गया ।

जिला महासमुन्द के महिला पुलिस कर्मचारियों द्वारा स्थानीय स्कूलों में लगातार सेल्फ डिफेन्स का ज्ञान दिया जा रहा है जिसके तहत अब तक 3500 छात्रााओं एवं 2300 छात्रो को सेल्फ डिफेन्स का ज्ञान प्रदान किया है जिसका दिनांक 03.12.2016 को बागबाहरा जिला महासमुन्‍द में समापन किया गया । कार्यक्रम के दौरान ली गई फोटोग्राफस ।

Mahasamund - एक नाबालिक बच्‍चे को सकुशल नागपुर महाराष्‍ट्र् परिजनो को सुपुर्द किया गया ।

एक 12 वर्ष के बच्‍चे के साथ एक व्‍यस्‍क व्‍यक्त्‍िा द्वारा अच्‍छा बर्ताव नहीं करने की सूचना पर रा0रा0मार्ग 53 तुमगांव थाना तुमगांव जिला महासमुन्‍द से दोनो व्‍यस्‍ क एवं नाबालिक बच्‍चे को थाना लाया गया जो नागपुर महाराष्‍ट्र के थे ।  अनावेदक शैयद शाकिर रिश्‍ते में बच्‍चे का मामा है। बच्‍चे के परिजनों को नागपुर से बुलाया गया एवं बच्‍चे को सीडब्‍ल्‍यूसी महासमुन्‍द के समक्ष पेश किया गया उनके द्वारा बच्‍चे को परिजनों को सुपुर्द किया गया।  

Mahasamund - अवैध गांजे की परिवहन करने वाले लोगो को पकड़ने में महासमुन्‍द पुलिस को सफलता मिली

महासमुंद एवं उड़िसा से लगे हुये राष्ट्रीय राज्यमार्ग 53 में उड़िसा से अवैध गांजे की परिवहन की सूचना पुलिस अधीक्षक श्रीमती नेहा चम्पावत को मिल रही थी। उक्त सूचना पर कार्य करने के लिए क्राईम ब्रांच की टीम को निर्देशित किया गया था। क्राईम ब्रांच की टीम उड़िसा और महासमुंद जिला प्रवेश के पास अपने मुखबीर लगाकर अवैध गांजा परिवहन करने वाले लोगो को पकड़ने का लगातार प्रयास कर रही थी कि क्राईम ब्रांच की टीम को सूचना मिली कि एक उत्तर प्रदेश रजिस्ट्रेशन नम्बर की कार में अवैध रूप से उड़िसा से गांजा लाया जा रहा है जो बहुत ही तेज गति से महासमुंद शहर की ओर बढ़ रही है। क्राईम ब्रांच की टीम ने खल्लारी नाका के पास न

Pages