जशपुर- हथियार के साथ 03 आरोपियों को पुलिस ने पकड़ा I

दिनांक 17/06/2017 को विश्वस्त सू़त्रों से क्राईम ब्रांच को यह सूचना प्राप्त हुई कि दमेरा-चरईड़ांड़ मार्ग पर व्यापारियों से वसूली के उदेश्य से हथियार के साथ कुछ संदिग्ध व्यक्तियों को उस क्षेत्र में देखा गया है। पुलिस को भी उक्त दमेरा-चरईड़ांड़ मार्ग में कुछ दिनों से शाम के समय संदिग्ध व्यक्तियों की उपस्थिति और संदिग्ध गतिविधियों की सूचना प्राप्त हो रही थी। उक्त सूचनाओं की सत्यता की जांच एवं आवश्यक कार्यवाही का दायित्व श्री प्रशांत सिंह ठाकुर, पुलिस अधीक्षक जशपुर ने अपने मार्गदर्शन में क्राईम ब्रांच एवं जशपुर कोतवाली को सौंपा था।
क्राईम ब्रांच एवं जशपुर कोतवाली की टीम ने दमेरा-चरईड़ांड़ मार्ग व आसपास के जंगली क्षेत्र की सुदृढ़ घेराबंदी कर हथियारबंद संदिग्ध व्यक्तियों की पतासाजी प्रारंभ की, कुछ समय व्यतीत होने के पश्चात दमेरा-चरईड़ांड़ मार्ग पर मंदिर से नीचे की ओर 03 संदिग्ध व्यक्ति हथियार के साथ भ्रमण करते हुये दिखाई दिये। पुलिस द्वारा उन्हें देख लिये जाने पर वे तीनों वहां से जंगल की ओर भागने का प्रयास करने लगे लेकिन वे तीनों पुलिस की मजबूत घेराबंदी को तोड़ने में सफल नहीं हुये और पुलिस की संयुक्त टीम उन तीनों संदिग्ध व्यक्तियों को पकड़ने में सफल रही, वे अपने साथ 12 बोर बंदूक एवं देशी बन्दूक (भरमार) रखे हुये थे। उनसे पूछताछ करने पर उन्होने अपना नाम क्रमशः 1- मुकेश मुण्डा पिता सनू मुण्डा उम्र 37 वर्ष निवासी रेंगोला, डुमरटोली थाना जशपुर 2-प्रदीप लकड़ा पिता गैब्रियल लकड़ा उम्र 34 वर्ष निवासी सिटोंगा, चेंगोटोली, थाना जशपुर 3-लालेश्वर उर्फ ललसु नगेशिया पिता दुर्गाराम उम्र 28 वर्ष, निवासी जोगीमारा, रेंगोला थाना जशपुर बताया ।
तीनों संदिग्धों से हथियार रखने के संबंध में वैद्य लायसेंस/दस्तावेज प्रस्तुत करने बाब्त मौके पर ही तीनों व्यक्तियों को अलग-अलग धारा 91 द.प्र.सं. का नोटिस दिया गया। जिसके प्रत्युत्तर में तीनों ने ही उक्त हथियार रखने के संबंध में उनके पास कोई वैद्य दस्तावेज या लायसेंस नहीं होना बताया। लिहाजा धारा 25, 27 आर्म्स एक्ट का अपराध सदर पाये जाने से उक्त तीनों संदिग्धों 1-मुकेश मुण्डा पिता सनू मुण्डा से 01 नग देशी बन्दूक (भरमार) 2-प्रदीप लकड़ा पिता गैब्रियल लकड़ा से 01 नग 12 बोर बंदुक एवं 3-लालेश्वर उर्फ ललसु नगेशिया से से 01 नग देशी बन्दूक (भरमार) हथियार जप्त करते हुये मौके पर ही बिना नंबरी अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।
ज्ञात हो कि पकड़े गये आरोपियों में मुकेश मुण्डा पिता सनू मुण्डा उम्र 37 वर्ष निवासी रेंगोला, डुमरटोली थाना जशपुर वर्ष 2004 में थाना सिटी कोतवाली जशपुर के एक अपराध में लगभग 5 वर्ष की सजा भी काट चुका है। उसने पूछताछ में बताया कि वह अपने साथी लड्डू उर्फ विरेन्द्र जो वर्तमान में सिमडेगा जेल झारखण्ड में बंद है उसके जमानत के लिए पैसा इकट्ठा करने के उद्देष्य से एवं अपने संगठन को मजबूत बनाने के लिए उक्त दमेरा-चरईड़ांड़ मार्ग पर व्यापारियों से बड़ी रकम की वसूली करना चाहता था।
उक्त आरोपियों को पकड़ने में जशपुर क्राईम ब्रांच के प्रभारी जितेन्द्र कुमार गुप्ता, प्रधान आरक्षक मनोज सिंह, आर. निर्मल बड़ा, आर. रतनेश यदु, आर. अनिल सिंह, आर. मनराज मांझी एवं चालक आर. हेमंत तथा सिटी कोतवाली जशपुर से निरीक्षक शिवानंद तिवारी, उप निरीक्षक कोमल तिग्गा, प्र.आर.कोसो सिंह, आर. विनोद गुप्ता, आर. शोभनाथ सिंह, महिला आर. रिम्पा पैंकरा का विशेष योगदान रहा।

District: 
Jashpur
Post Image: